Sad Shayari, Na Rakhi Mohobbat Ki Aas

हमने तेरे बाद न रखी किसी से मोहब्बत की आस, 
एक शख्स ही बहुत था जो सब कुछ सिखा गया।

Humne Tere Baad Na Rakhi Kisi Se Mohabbat Ki Aas, 
Ek Shakhs Hi Bahut Tha Jo Sab Kuchh Sikha Gaya.

Sab Kuchh Sikha Gaya

💔😞💔

जब भी वो उदास हो उसे मेरी कहानी सुना देना,
मेरे हालात पर हँसना उसकी पुरानी आदत है।

Jab Bhi Wo Udaas Ho Use Meri Kahani Suna Dena, 
Mere Haalat Par Hansana Uski Purani Aadat Hai.

Uski Purani Aadat Hai

💔😞💔

खत्म हो गई कहानी बस कुछ अल्फाज़ बाकी हैं, 
एक अधूरे इश्क़ की एक मुकम्मल सी याद बाकी है।

Khatm Ho Gayi Kahani Bas Kuchh Alfaaz Baki Hain, 
Ek Adhoore Ishq Ki Ek Muqammal Si Yaad Baki Hai.

Yaad Baki Hai

💔😞💔

नाम उसका ज़ुबान पर आते-आते रुक जाता है, 
जब कोई मुझसे मेरी आखिरी ख्वाहिश पूछता है।

Naam Uska Zubaan Par Aate-Aate Ruk Jata Hai,
Jab Koyi Mujhse Meri Akhiri Khwahish Poochhta Hai.

Akhiri Khwahish Poochhta Hai

💔😞💔

बस यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने,
कि इलज़ाम झूठे ही सही पर लगाये तो तुमने हैं।

Bas Yehi Soch Kar Koyi Safaai Nahi Di Humne, 
Ki ilzam Jhoothhe Hi Sahi Par Lagaye To Tumne Hain.

Lagaye To Tumne Hain

💔😞💔

Read More… 

Spread the love

Leave a Comment